शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

0

Hits: 2

भारतीय शेयर बाजार में हाहाकार मचा हुआ है. लगातार दूसरे कारोबारी दिन भी सेंसेक्स-निफ्टी में बड़ी गिरावट देखने को मिली. मंगलवार को शेयर बाजार की उल्टी चाल ने निवेशकों को झकझोर दिया. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 642 अंक गिरकर 36,481 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी में 186 अंक की गिरावट आई और यह 10,817 के स्तर पर बंद हुआ.

शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

एक अनुमान के मुताबिक बाजार में भूचाल की वजह से मंगलवार को निवेशकों को 2.30 लाख करोड़ रुपये से अधिक का चूना लगा. सोमवार को बीएसई पर लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप 1,42,08,049.05 करोड़ रुपये था, जो मंगलवार को 1,39,75,844.03 करोड़ रुपये हो गया. इस लिहाज से 2,32,205 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. बाजार में हाहाकार के 5 अहम कारण हैं.

शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

तेल ने बिगाड़ा खेल
सऊदी अरब में अरामको के तेल संयंत्रों पर हमले से दुनिया भर के बाजारों पर असर पड़ा है. जिस वजह से कच्चे तेल की कीमत में रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई, हालांकि मंगलवार को कीमतों में कोई खास बदलाव नहीं हुआ. लेकिन फिलहाल दुनियाभर में तेल की मांग-आपूर्ति के संतुलन पर अनिश्चितता का संकट बरकरार है. सऊदी के तेल प्लांट पर हमले और अंतरराष्ट्रीय बाजार में बिकवाली की वजह से मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार का मूड एक बार फिर बिगड़ गया.

शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

कमजोर वैश्विक संकेत
वैश्विक बाजारों से भी संकेत अच्छे नहीं मिल रहे हैं. सोमवार को डाउ जोन्स में 0.5% की गिरावट दर्ज की गई. वहीं, एशियाई बाजारों में भी गिरावट का माहौल रहा. हैंगसैंग और शंघाई कम्पोजिट इंडेक्सेस 1.7 फीसदी नीचे थे. वहीं चीन के आईआईपी के आंकड़ों ने भी निराश किया, जो 17 सालों के निचले स्तर पर है.

शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

संकट में ऑटो सेक्टर
ऑटो सेक्टर लगातार आर्थिक मंदी से जूझ रहा है. बिक्री ठप पड़ी है, जिस वजह से कंपनियों को प्लांट बंद रखने का फैसला लेना पड़ रहा है. ऑटो सेक्टर में मंदी की असर ऑटो कंपनियों से शेयरों पर भी मंगलवार को देखने को मिला. कारोबार के दौरान ऑटो सेक्‍टर के शेयर पस्‍त नजर आए. कारोबार के अंत में हीरो मोटोकॉर्प के शेयर 6.42 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए. इसी तरह टाटा मोटर्स और मारुति के शेयर 4 फीसदी से अधिक लुढ़क गए. बजाज ऑटो और महिंद्रा के शेयर भी लाल निशान पर बंद हुए.

शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

रुपया भी दबाव में
कच्चे तेल में दाम में उछाल से भारतीय रुपया दबाव में दिखा. मंगलवार को शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया 28 पैसे गिरकर 71.88 पर खुला. इसकी प्रमुख वजह डॉलर की मांग बढ़ना है. निवेशकों ने सुरक्षित निवेश के रूप में डॉलर में निवेश करना पसंद किया. 6 अन्य वैश्विक मुद्राओं के मुकाबले डॉलर सबसे अधिक मजबूत रहा. आखिर में डॉलर के मुकाबले रुपया 71.78 पर बंद हुआ था.

शेयर बाजार में मचा है दो दिन से हाहाकार, ये 5 बड़े कारण जिम्मेदार

फेड रिजर्व बैठक
बुधवार को अमेरिका में फेडरल रिजर्व की बैठक है. इस बैठक में अमेरिका में ब्याज दरें घटाने का फैसला हो सकता है. फेड रिजर्व की बैठक के पहले रेट कट की संभावनाओं को लेकर भी शेयर बाजार दबाव में है. मार्केट ऐनालिस्ट्स ब्याज दरों में 0.25 फीसदी की कटौती की उम्मीद कर रहे हैं. हालांकि ये कयास भी लगाए जा रहे हैं कि केंद्रीय बैंक के कुछ आंकड़े आने के बाद ही कुछ फैसला लिया जाएगा. अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप लंबे समय से रेट कट की मांग कर रहे हैं.