BJP नेता की कंपनी पर मंदी की मार, 400 कर्मचारियों की हुई छंटनी

0

Hits: 9

देश आर्थिक सुस्‍ती के दौर से गुजर रहा है. ऑटो, एफएमसीजी समेत अन्‍य कई सेक्‍टर की कंपनियों की बिक्री में गिरावट आ गई है. इस वजह से कंपनियों ने प्रोडक्‍शन कम कर दिया है और लगातार कर्मचारियों की छंटनी भी कर रही हैं. इन हालातों का असर मुंबई बीजेपी के अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा की कंपनी पर भी देखने को मिल रहा है. कर्ज के बढ़ते बोझ और बिक्री में गिरावट की वजह से मंगल प्रभात लोढ़ा की कंपनी ने बड़ी संख्‍या में छंटनी कर दी है.

न्‍यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रियल एस्‍टेट सेक्‍टर की सबसे बड़ी कंपनी  मैक्रोटेक डेवलपर्स (पूर्व में लोढ़ा डेवलपर्स) ने 400 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है. कंपनी की ओर से बताया गया है कि कर्मचारियों की छंटनी कामकाज के प्रदर्शन की समीक्षा के बाद की गई है.

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, ‘मैक्रोटेक ने अपनी विभिन्न परियोजनाओं में करीब 50,000 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार दिया है.  मौजूदा छंटनी सालाना प्रदर्शन के आकलन का हिस्सा है. ’’ एजेंसी सूत्रों की मानें तो कंपनी ने जूनियर लेवल के कर्मचारियों को बाहर किया है.

बता दें कि यह कंपनी महाराष्ट्र के बीजेपी नेता मंगल प्रभात लोढ़ा की है. मंगल प्रभात लोढ़ा की लोढ़ा ग्रुप की रियल एस्‍टेट सेक्‍टर की दिग्‍गज कंपनी के तौर पर पहचान है. हालांकि लोढ़ा ग्रुप भारी कर्ज में भी है.

कंपनी पर कर्ज का बोझ 25,600 करोड़ रुपये को पार कर चुका है. हाल ही में दो ग्‍लोबल रेटिंग एजेंसियों मूडीज इन्वेस्टर्स एंड सर्विस और फिच रेटिंग्स ने लोढ़ा ग्रुप की रेटिंग को निगेटिव आउटलुक के साथ नीचे किया है.

इंडिया रेटिंग्स की रेटिंग में कहा गया है कि बीते वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी का कर्ज 13 फीसदी बढ़कर 25,640 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.