कांग्रेस संसदीय दल की नेता बनी रहेंगी सोनिया गांधी, राहुल ने कहा- भाजपा के खिलाफ हर दिन लड़ाई लड़ेंगे

0

Hits: 8

यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी कांग्रेस संसदीय दल की नेता बनी रहेंगी। शनिवार को संसदीय दल की हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। बैठक को संबोधिक करते हुए यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने पार्टी का समर्थन करने के लिए 12 करोड़ वोटरों को शुक्रिया कहा।

सोनिया गांधी ने लोकतंत्र के पर्व में शामिल होने वाले लोगों, पार्टी के कार्यकर्ताओ, नेताओं और सहयोगी दलों को भी धन्यवाद दिया। बैठक के बाद सोनिया गांधी पार्टी का लोकसभा का नेता चुनने के लिए अधिकृत किया गया है। इसके बाद विपक्ष का नेता सोनिया गांधी की तरफ से ही चुना जाएगा।

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पार्टी ने नव निर्वाचित सांसदों को संबोधित किया। राहुल ने सांसदों को आत्मावलोकन करने को कहा। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हम ईंच-ईंच की लड़ाई लड़ेंगे। राहुल ने कहा कि हम भाजपा के खिलाफ हर रोज लड़ाई लड़ेंगे। राहुल ने कहा कि पार्टी को खुद का कायाकल्प करना होगा। उन्होंने कहा कि हम इसे कर सकते हैं।

बैठक में डॉ. मनमोहन सिंह, राज बब्बर, ज्योतिरादित्य सिंधिया व अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि हम सामाजिक मुद्दों, संविधान के लिए लड़ाई लड़ेंगे। राहुल गांधी ने पार्टी के सदस्यों को आक्रामक रहने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा को टक्कर देने के लिए हमारी संख्या पर्याप्त है। इससे पहले सोनिया गांधी ने राहुल गांधी की तारीफ की। उन्होंने राहुल गांधी को दूरदर्शी नेता बनाया।

मनमोहन सिंह के नाम का प्रस्ताव रखाः संसदीय दल की बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने संसदीय दल के नेता के रूप में सोनिया गांधी के नाम का प्रस्ताव पेश किया। इसके बाद सर्वसम्मति से कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुन लिया गया।