मोदीजी चुनाव में सिर्फ 29 दिन रह गए हैं, अब तो बिना स्क्रिप्टेड एक ‘प्रेस कांफ्रेंस’ कर दीजिए : शत्रुघ्न सिन्हा

681

Hits: 347

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल को महज दो महीने और शेष बचे हैं। इस दौरान पीएम ने एक रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करवाया है। जब से मोदी प्रधानमंत्री बने हैं (मई 2014) तब से लेकर यानि मार्च 2019 तक एक भी प्रेस कांफ्रेंस नहीं की! हालाँकि प्रधानमंत्री मोदी ने ज़ी न्यूज़ के सुधीर चौधरी और समाचार एजेंसी एएनआई को इन्टरव्यू दिया लेकिन इस इन्टरव्यू को देखते हुए कहा जा सकता है कि ये प्री स्क्रिप्टेड था।

प्रेस कांफ्रेंस से मतलब है कि प्रधानमंत्री लाइव मीडिया के सामने आएं, जिसमें देश के सभी मीडिया शामिल हों। इस वार्ता में पत्रकारों से प्रधानमंत्री के सवाल जवाब हो सकें। मगर, इन पांच सालों में प्रधानमंत्री मीडिया के सवालों से बचते रहे। इसमें एक बात यह भी है कि पीएम ने ज़ी न्यूज़ और एएनआई से बिलकुल किनारा नहीं किया!

इसपर बिहार के पटना साहिब से भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है। सिन्हा ने ट्वीट करके लिखा है कि, “2019 लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान हो चुका है। अब तो कम से कम एक प्रेस कांफ्रेंस कर दीजिए। ये एक इमानदारी से भरा सेशन होगा। ये पहले से तैयार किया हुआ, शोधित और अभ्यास करके नहीं होगा और ना ही दरबारी पत्रकारों के बीच होगा।”

Now that dates have been accounced, Sir, ab toh kum se kum, ek press conference (PC) kar dijiye. A free & fair session, not choreographed, researched or rehearsed & without the press known for Raag Darbari & Sarkari mindset. You shall go down in history, as the only PM, in a— Shatrughan Sinha (@ShatruganSinha) March 13, 2019

उन्होंने पीएम मोदी के लिए आगे लिखा है, “आप एकमात्र प्रधानमंत्री होंगे जिसने लोकतांत्रिक देश में एक भी प्रश्नोत्तर सत्र मीडिया के सामने नहीं किया। इसके लिए आप इतिहास में नीचे जा सकते हैं।”

बल्कि, प्रधानमंत्री मोदी खुद भाजपा के कार्यकर्ताओं के सामने कई बार मुखातिब हो चुके हैं। इसमें भी सवाल जवाब होते हैं लेकिन सभी सवाल और उसके जवाब पहले से लिखित होते हैं।

पिछले दिनों एक ऐसे ही कार्यक्रम में जब बीजेपी के कार्यकर्ता के सवाल पर प्रधानमंत्री असहज हो गए तो उन्होंने उसे ‘वणक्कम’ कहके टाल दिया था।