प्रियंका के जिम्‍मा संभालते ही कांग्रेसियों का जोश बढ़ा, महीने भर में जुड़े 10 लाख लोग

340

Hits: 140

प्रियंका गांधी को राजनीति में उतारने का फायदा कांग्रेस को मिलता दिख रहा है। बतौर महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी बनने के बाद से कांग्रेस के 10 लाख नए बूथ कार्यकर्ता बने हैं। प्रियंका का जादू हरतरफ नजर आ रहा है। उत्तर प्रदेश में पार्टी कार्यकर्ताओं की संख्या में दोगुना इजाफा हुआ है। 150,000 से कार्यकर्ताओं की संख्या 350,000 हो गई है।

प्रियंका के आने से ना सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही बल्कि अन्य राज्यों में भी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ी है। मसलन, तमिलनाडु कांग्रेस का मजबूत क्षेत्र नहीं है लेकिन ताजा आकड़ों के मुताबिक बूथ स्तर पर 250,000 नए कार्यकर्ताओं का पंजीकरण तमिलनाडू में भी  हुआ है।पिछले चार सप्ताह में देश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है। 5.4 मिलियन से कार्यकर्ताओं की संख्या 6.4 मिलियन पहुंच गई है।बताते चलें कि पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रभारी के तौर पर प्रियंका गांधी को 23 जनवरी को नियुक्त किया गया था। 6 फरवरी को उन्होंने पद संभाला था।

इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के अनुसार, कांग्रेस के डाटा एन्लेटिक्स टीम के प्रमुख का कहना है कि प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस कार्यकर्ताओें पर बड़ा असर हुआ है और उनमें खासा उत्साह है। यूपी, तमिलनाडु और केरल में भी कार्यकर्ताओं की संख्या और बूथ लेवल पर लोगों की दिलचस्पी बढ़ी है। उनका कहना है कि शक्ति मोबाइल एप के जरिए भी कार्यकर्तओं की संख्या में इजाफा हुआ है। प्रियंका गांधी का संबोधन फिलहाल नहीं हुआ है, वह अभी आम जनसभा को संबोधित नहीं की हैं। 14 फरवरी को पुलवामा हमले के बाद  प्रियंका गांधी ने सभा स्थगित कर दी थी। हालांकि की लखनऊ में बनाए गए कॉल सेंटर के जरिए प्रियंका सभी के सवालों के जवाब देती हैं और बूथ लेवल के कार्यकर्ताओं से भी बातचीत करती हैं। कार्यकर्ताओं से रुबरू होने को लेकर अन्य माध्यमों पर भी कांग्रेस काम कर रही है।