सौरव गांगुली मैदान में, नेताओ के छुड़ाएंगे छक्के, राजनीति में हंगामा…

103

Hits: 39

आईये बात करते हैं टीम इंडिया के उन दिनों की जब सौरव गांगुली कप्तान हुआ करते थे उस समय वीरेंद्र सहवाग और युवराज सिंह ने भारतीय टीम को कई ज़बरदस्त जीत दिलाई थी

आपको बता दें की ये दोनों उस समय गांगुली की कप्तानी में खेलते थे और गांगुली को इंडिया के सबसे सफल कप्तानो में से एक माना जाता है और वो उन खिलाड़ियों के लिए भी मैदान के बाहर लड़ते देखे जा सकते थे

जिनके ऊपर उन्हें बहुत विश्वास था इसी में नाम आता है सहवाग का जिन पर गांगुली ने विश्वास जताया और उन्हें कई मौके दिए गांगुली को बेहद करीब से जानने वाले सहवाग को उनकी लीडरशिप पर आज भी भरोसा है.

इसी सिलसिले में सहवाग से एक सवाल किया गया की गांगुली जल्द ही बीसीसीआई के अध्यक्ष बनेंगे इसपर सहवाग ने जवाब दिया कि सौ प्रतिशत गांगुली पहले पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री बनेंगे और मगर उसके पहले बीसीसीआई के अध्यक्ष भी बनेंगे ये बाते सहवाग ने दिल्ली में आयोजित सौरव गांगुली की ऑटो बायोग्राफी “अ सेंचुरी इज नॉट एनफ” के इवेंट के दौरान कही

इस अवसर पर युवराज सिंह भी मौजूद थे और उन्होंने कई पुरानी यादे शेयर की सहवाग ने याद करते हुए कहा कि “दादा अपना किट बैग पैक करने को कहकर जाते थे वो मैच के बाद तुरंत प्रेस कांफ्रेंस करने चले जाते थे और हमें अपना किटबैग जमाने के लिए कहकर जाते थे मगर ऐसा होता है धोनी भी अपना किटबैग दूसरों से पैक करवाते थें.”

हालाँकि गांगुली ने इस पर ऐसी बात कह दी की वहां मौजूद सभी हंसने लगे उन्होंने कहा की ये कहानी पूरी सही नहीं है असल में मुझे प्रेस कांफ्रेंस की जल्दी रहती थी जबकि युवराज को नाईट -आउट के लिए जाना होता था और उन्हें इसमें देरी बिलकुल सही नहीं होती थी इसलिए किटबैग पैक करने के पीछे इरादा हुआ करता था मैच ख़त्म होने के बाद युवी जल्द ही मेरा किटबैग पैक कर दिया करते थे.

courtesy: Open Khabar