भारत में ड्राइवरलेस कार आने से पहले ही लगा ब्रेक

277

Hits: 56

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में ड्राइवरलेस कारों को लेकर चर्चा और बहस का दौरा जारी है, लेकिन भारत में ऐसी कारों के लिए कोई जगह नहीं है। सड़क परिवहन और राजमंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि, ऐसी कारों से देश में बेरोजगारी की समस्या बढ़ेगी, सरकार को लाखों ड्राइवरों की नौकरी की चिंता है, इसीलिए ऐसी कारों को अनुमति नहीं दी जा सकती।

भविष्य के कुछ भी हो सकता है
गडकरी ने अपने बयान को स्पष्ट करते हुए कहा कि मौजूदा समय में परिवहन के क्षेत्र में लाखों नौकरियों का सृजन हो रहा है। देश में ट्रक और टैक्सी ड्राइवरों की संख्या बढ़ रही है। ऐसे दौर में ड्राइवरलेस कार लोगों की नौकरी पर मुश्किल खड़ी करेगा। हालांकि हम यह बात दावे के साथ नहीं कह सकते कि आने वाले दिनों में भी ड्राइवरलेस कारें नहीं होंगी।